क्या Programming में Physics की आवश्यकता है ?

 Computer Programming एक Development है। जिसके द्वारा Computer को कुछ भी करने के लिए Instruction दे सकते है। किसी भी प्रकार का Program Create कर सकते है।  जैसे - Web Development, Software Development, Mobile App Development आदि। 

                                             क्या Programming में Physics की आवश्यकता है ?


लेकिन आज हम इस Article में पढ़ेंगे क्या Programming में Physics की आवश्यकता होती है ? यदि होती है तो क्या Use है Programming में Physics का , क्या Computer Programmer बनने के लिए Physics महत्त्वपूर्ण है ? 

क्या Programming में Physics की आवश्यकता है ?

वैसे तो Basic Programming में Physics की कोई भी आवश्यकता नहीं होती है। Programming बहुत तरह की होती है।  जिनकी मदद से अलग - अलग तरह के Program Create करते है। कुछ Program में Physics की आवश्यकता होती है। चलिए नीचे पूरी तरह से जानते है, किस तरह की Programming में Physics की आवश्यकता होती है ?

1. Software Engineer की Degree लेना 

सबसे पहले तो यही बात आ जाती है।  की यदि आप Computer Programmer की या Software Engineer की Degree लेना चाहते है, तो 10 + 2 में Physics, Chemistry, Math होना आवश्यक है।  क्युकी India में Most Colleges में BCA B . Tech CS Admission तभी मिलता है, जब आप 12th PCM से पास हुए होंगे। 

2. Game Development में 

Game Development में Physics का बहुत अधिक Use है, जैसे - Game Graphics Design में Physics laws का use होता है, Game Engine Design में Physics का use होता है, Car बनाने में Physics का Use, Paractute Velocity में Physics का Use, इसके अतिरिक्त कोई भी Simulator बनाने में जैसे - (Driving Flight Spacecraft ) में Physics का Use होता है।  Flappy Bird Gravity का Concept रखती है।  

इस प्रकार Game Development में Physics का Use है।  यदि कोई भी व्यक्ति एक अच्छा Game developer बनना चाहता है।  या उसे एक बड़ा Game Development करना है, तो उसे Physics सीखना चाहिए।

3.  Artificial Intelligence में 

AI Robotics Software बनाने में मदद करता है।  इसमें बहुत अधिक Mathematics Concept होते है।  Artificial Intelligence की Branch Machine learning में Physics का Use काफी अधिक होता है।  Quantum material and Quantum Circuit design में, 

4. Scientific Software Development में 

Scientific Software बनाने में Physics का Use होता है।  जैसे - कोई Developer NASA , Space-ex etc Company में है।  तो उसे बहुत प्रकार के Scientific Software बनाने होते है।  जिनमे Physics का Use होता है। 

Post a Comment

0 Comments