ऊष्मा चालकता किसे कहते है ? (thermal conductivity in hindi)

 आज Physics in Hindi (भौतिक विज्ञान ) के Tutorial में ऊष्मा चालकता (thermal conductivity in hindi) के बारे में पढ़ेंगे।  ऊष्मा चालकता क्या है ? (What is thermal Conductivity in Hindi ?) , ऊष्मा चालकता किसे कहते है ? ऊष्मा चालकता का सूत्र  आदि पढ़ेंगे।  

ऊष्मा चालकता किसे कहते है ? (thermal conductivity in hindi)


ऊष्मा चालकता  किसे कहते है ? 

ऊष्मा चालकता किसी भी दी गयी सामग्री या पदार्थ की गर्मी की संचालन करने की क्षमता को संदर्भित करता है।  ये पदार्थ का वह गुण है।  जिसके द्वारा ये पता कर सकते है।  की पदार्थ से ऊष्मा आसानी से प्रवाहित हो सकती है।  या नहीं।   जिन किसी भी पदार्थो की ऊष्मा चालकता सबसे अधिकतम होती है।  उनसे होकर समान समय में ज्यादा ऊष्मा प्रवाहित हो सकती है।  जिन पदार्थो की ऊष्मा चालकता बहुत काम होती है।  उनमे ऊष्मा प्रवाहित बहुत अधिक काम या नहीं होती है।  इन पदार्थो को ऊष्मा चालकता कहते है।  नीचे इन सभी के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे। 

ऊष्मा चालकता की परिभाषा 

पदार्थो का वह गुण जिसके कारण उनमे चालन की प्रक्रिया द्वारा ऊष्मा का संचरण होता है।  पदार्थ की ऊष्मा चालकता कहलाती है।  इसे K द्वारा दर्शाया जाता है।  लेकिन इसको λ से भी दर्शाया जाता है।  

यह पदार्थ की प्रकृति पर निर्भर करता है की  उसमे ऊष्मा चालकता कितनी होगी।  इसलिए ऊष्मा चालकता के आधार पर पदार्थो को तीन भागो में बांटा गया है। 

  1. कुचालक 
  2. सुचालक 
  3. उष्मारोधक 

कुचालक 

ऐसे पदार्थ जिनमे ऊष्मा का संचालन बहुत धीमे धीमे या ऊष्मा संचालन बहुत कम होता है कुचालक कहलाते है।   "जिन पदार्थो में इलेक्ट्रान या Current बिजली प्रवाह बहुत कम होती है।  वे कुचालक कहलाते है। " 

जैसे - लकड़ी, रबड़, कांच, गैस 

सुचालक 

ऐसे पदार्थ जिनमे ऊष्मा का संचालन तेजी या धीमे दोनों  तरह से होता है सुचालक कहलाते है।  " वे पदार्थ जिनमे बिजली (Current ) प्रवाहित होता है।  उनको सुचालक कहते है।" 

एक आदर्श चालक की ऊष्मा चालकता सबसे अधिक होती है। जैसे - सोना, चांदी, अल्युमिनियम आदि " 

उष्मारोधक 

ऐसे पदार्थ जिनमे ऊष्मा चालकता बिलकुल नहीं होती है।  उष्मारोधक पदार्थ कहलाते है।  " ऐसे पदार्थ जिनमे बिजली (Current ) बिलकुल प्रवाहित नहीं होता है।  उन्हें उष्मारोधक पदार्थ कहते है। 

 जैसे - एस्बेस्टोस तथा एबोनैट

ऊष्मा चालकता का सूत्र 

आप ऊपर पढ़ चुके है।  प्रत्येक पदार्थ की ऊष्मा चालकता भिन्न भिन्न होती है। पदार्थ की ऊष्मा चालकता नीचे दिए गए सूत्र द्वारा वर्णित है। 



जहाँ 
K ऊष्मा चालकता है। 
Q वाट में सामग्री के माध्यम से स्थान्तरित गर्मी की मात्रा है। 
L ये दो समतापी तलो के बीच की दूरी है। 
A सतह का क्षेत्रफल है।  जो की वर्ग में है। 
T ये केल्विन में तापमान का अंतर है। 

Post a Comment

0 Comments